घोड़ो के बारे में 25 ग़ज़ब तथ्य, Horses In Hindi

Amazing Facts about Horses in Hindi – घोड़ो के बारे में रोचक तथ्य

horses in hindiदुनिया में करीब-करीब 6 करोड़ घोड़े है. इन्हें लगभग 6000 साल पहले मनुष्य ने पहली बार पालना शुरू किया था. Let’s begin…

1. इंग्लिश में नर घोड़े को ‘Stallion’ और मादा घोड़ी को ‘Mare’ कहते है. युवा घोड़े को ‘Colt’ और युवा घोड़ी को ‘Filly’ कहते है. छोटे घोड़े को ‘Ponies’ कहते है।

2. घोड़ो की लगभग 300 से ज्यादा नस्लें है. अरबी नस्ल को घोड़ों की सबसे पुरानी जीवित नस्ल माना जाता है, लगभग 4500 साल पुरानी. दूसरो घोड़ो की बजाय अरबी घोड़ो की पसली में एक हड्डी कम होती है।

3. कई फुटेज में घोड़ो को मुस्कुराते हुए देखा गया है. दरअसल, ऐसा करने से घोड़ों की सूँघने की शक्ति बढ़ जाती है. घोड़े भी इंसानो की तरह अपना मूड बताने के लिए तरह-तरह के चेहरे बनाते है।

4. हमारे नाखूनों की तरह घोड़ो के खुर भी सेंसिटिव होते है. जब घोड़ा दौड़ता है तो उसके चारों खुर एक साथ जमीन से उठते है।

5. यदि घोड़े के कान का पिछला हिस्सा ठंडा लग रहा है तो समझ लेना घोड़े को ठंड लग रही है।

6. घोड़ो पर लिखी हुई पहली पुस्तक ‘शालिहोत्र‘ है ये पुस्तक शालिहोत्र ऋषि के हाथों महाभारत काल से भी पहले लिखी गई थी।

7. घोड़ो के लिए उल्टी करना असंभव है. ये इंसानो की तरह डकार भी नही मार सकते. इसलिए घोड़ों की मौत का सबसे बड़ा कारण पेट का दर्द है।

8. घोड़े खड़े-खड़े सो सकते है क्योकिं उनके अगले और पिछले पैर की बनावट इस तरह से होती है कि वो आराम करते हुए भी नही गिरेगे. दूसरी बात, सोते तो ये लेट कर भी है लेकिन लेट कर सोने से उनके पेट के अंगो पर दबाव पड़ता है जो उनके लिए हानिकारक है।

9. घोड़े के दाँत बहुत बड़े होते है. दाँत उसके दिमाग के मुकाबले ज्यादा जगह घेरते है. घोड़े की उम्र और उसके कंकाल की पहचान(घोड़ा है या घोड़ी) उसके दाँतो को गिनकर ही पता लगती है। घोड़े के दिमाग का वजन लगभग 623 ग्राम होता है जो इंसानो के दिमाग का लगभग आधा है।

10. घोड़े की आँखे सिर पर इस तरह से होती है कि वो 360° तक देख सकता है. इनकी आँखो का ऊपरी हिस्सा नजदीक की वस्तुएँ और निचला हिस्सा दूर की वस्तुएँ देखता है. लेकिन एक बात ये भी तो है कि घोड़े इंसानों की तरह फोकस नही कर सकते।

11. घोड़े पैदा होने के कुछ ही घंटे बाद ठीक से चलने लग जाते है।

12. वैसे तो घोड़ों की स्पीड 40 से 48km/h होती है. लेकिन सबसे तेज घोड़े की स्पीड 70.76km/h मापी गई है. अमेरिकन क्वार्टर नस्ल का घोड़ा सबसे तेज दौड़ता है।

13. जब नर घोड़ा और मादा जेब्रा सेक्स करते है तो ‘जेब्रोइड्स‘ पैदा होते है. आप नीचे तस्वीर देख सकते है।horses in hindi

14. ओलंपिक में भाग लेने वाले घोड़े बिजनेस क्लास में सफर करते है. इनके पास खुद के पासपोर्ट है।

15. आज की ब्रटिश सेना के पास टैंको की बजाय घोड़े अधिक संख्या में है।

16. लंदन में आज भी यातायात उसी गति से चलता है जैसे 100 साल पहले घोड़ा गाड़ी के समय में चलता था।

17. WW1 यानि प्रथम विश्वयुद्ध में 8 करोड़ घोड़े मारे गए थे. जो बच गए उन्हें किसी और कार्य के लिए अनफिट घोषित करके बेल्जियम में कसाईघर में भेज दिया गया था।

18. एक घोड़ा ज्यादा से ज्यादा 14.9 हार्स पाॅवर ऊर्जा का उत्पादन कर सकता है।

19. घोड़े के कान में 16 माँसपेशियाँ होती है जो उन्हें 180° तक घूमने में मदद करती है। घोड़े बहुत कम से बहुत ज्यादा आवाज तक सुन सकते है, 14 Hz से लेकर 25 KHz. (आदमी 20 Hz से लेकर 20KHz तक सुन सकते है).

20. पिछली कई सदियों में यूरोप में सूअर, घोड़ो और कीड़ों को भी अपराधों की सजा मिल चुकी है।

21. घोड़े केवल नाक से साँस लेते है मुँह से नही. इसलिए रेस की प्रैक्टिस करते समय हमें अक्सर कहा जाता है कि घोड़े की तरह मुहँ बंद करके साँस लो।

22. फुट और इंच में मापने की बजाय घोड़े की लंबाई को हाथो में मापा जाता है. एक हाथ 4 इंच के बराबर होता है. सबसे ऊँचा घोड़ा ‘सैम्पसन‘ जिसकी लंबाई 21.2 हाथ के बराबर थी. सबसे छोटा घोड़ा ‘आइंस्टीन‘ जो केवल 3.5 हाथ के बराबर था।

23. अगर ऊँचे जम्प के रिकाॅर्ड पर नजर डाली जाए तो 5th feb, 1948 को चिली देश में ‘हाऊसो‘ नाम का घोड़ा 8 फुट 1.25 इंच ऊपर कूदा था. इसके घुड़सवार का नाम था ‘Captain Alberto Larraguibel‘.

24. घोड़े की उम्र यही कोई 25 साल होती है. लेकिन अगर रिकाॅर्ड की बात की जाए तो 1822 में ‘ओल्ड बिली’ नाम का घरेलू घोड़ा 62 साल का होकर मरा था।

25. कहानी 1923 की है घोड़ों की रेस चल रही थी घुड़सवार को अचानक दिल का दौरा पड़ा और मौत हो गई लेकिन घोड़ा नही रूका और रेस जीत गया. इसी के साथ ‘फ्रैंक हेयास‘ दुनिया का अकेला ऐसा घुड़सवार बन गया जिसने मरने के बाद रेस जीती।

Related Post:
Loading...


loading...

3 Comments

  1. labh February 24, 2017
  2. Rahul Maurya(healthygio) February 27, 2017
  3. HindIndia February 27, 2017

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *