सपनों के बारे में 25 ग़ज़ब रोचक तथ्य, Facts about Dream in Hindi

Amazing Facts about Dream in Hindi – सपनों के बारे में रोचक तथ्य.

dream in hindiहर कोई सपने देखता हैं कोई दिन में सपने देखता है तो कोई रात में सपने देखता हैं. आज हम आपको सपनों से जुड़े ऐसे ग़ज़ब रोचक तथ्य बताएंगे, जिन्हें पढ़कर आपकी नींद उड़ जाएगी.

1. आपको कभी भी यह बात याद नहीं रहेगी, कि सपना शुरू कहा से हुआ था.

2. जिसका IQ जितना ज्यादा होगा, उसे उतने ही ज्यादा सपने आएगा.

3. छोटे बच्चों को पहले 3-4 साल तक सपने नहीं आते.

4. सपनों के ऊपर सबसे पहली किताब इजिप्ट में लिखी गई थी यह लगभग 4000 ईसा पूर्व पहले लिखी गई.

5. जन्म से अंधे लोगों को भी सपने आते हैं, वो अपने सपनों में सुगंध और दुर्गंध महसूस करते हैं या फिर उन्हें आवाजें सुनाई देती हैं.

6. जब आप सपने देखते हैं तो आपका शरीर पक्षाघात की स्थिति में पहुंच जाता है और कुछ भी करने में असमर्थ होता हैं. कई बार तो आप हिल-डुल भी नहीं पाते. आपको ऐसा लगता है कि सब सच में हो रहा हैं पर असल में आप सपना देख रहे होते हैं.

7. कई लोग सोचते हैं कि दिमाग थक जाता है लेकिन लेकिन ऐसा नहीं है यह सोते समय, जगे हुए की तुलना में और ज्यादा तेजी से काम करता हैं.

8. हमारा दिमाग कोई भी नया चेहरा नहीं बना सकता, इसलिए हम सपनों में उन्हीं लोगों को देखते हैं जो हमने असल जिंदगी में देखे हैं.

9. जो लोग सपने नहीं देखते, उन्हें “Personality Disorders” नामक बीमारी होती हैं.

10. यदि आप किसी के बारे में जागते हुए भी सपने देखते हैं तो इसका मतलब हैं आप उसे मिस कर रहे हैं.

11. जागने के 10 मिनट के अंदर ही हम 90% सपने भूल जाते हैं.

12. बहुत से लोगों का मानना है कि सुबह के सपने सच होते हैं लेकिन ऐसा बहुत कम होता है कि जो सपने में देखा है वही भविष्य में घटित हो गया हो.

13. जब तक रंगीन टीवी नहीं आए थे, तब अधिकतर लोगों को सपने भी ब्लैक एंड वाइट ही आते थे.

14. कुछ लोगों को नींद में चलने की बीमारी होती है जिसे “Sleep Walking” कहते हैं. यह एक मनोवैज्ञानिक बीमारी है यदि सही समय पर ठीक से नींद ली जाए तो यह बीमारी होने की संभावना ना के बराबर होती हैं.

15. जब हम कोई सपना देखते हैं वह हमें उससे नहीं पता होता है कि हम जो देख रहे हैं वह एक सपना है तो उस चीज को “Lucid Dream” बोलते हैं. इस दुनिया में कुछ ऐसे लोग भी हैं जो Lucid Dream को कंट्रोल कर सकते हैं, जैसे अपनी मर्जी से सपने में उड़ना या time travel करना. (LIKE ME).

16. इसका कोई वैज्ञानिक प्रूफ तो नहीं है लेकिन हम एक ही समय में या तो खर्राटें मार सकते हैं या फिर सपने देख सकते हैं दोनों काम एक साथ नहीं कर सकते.

17. सिर्फ इंसान ही नहीं जानवर भी सपने देखते हैं. कई बार अपने पालतू जानवर को सोते हुए देखिए, यदि वह अपने पंजे हिला रहा है तो समझ लिजिए कि सपना देख रहा हैं.

18. मैनें सपने में मकड़ी खाई.. ये एक झूठ हैं क्योकिं सपने में मकड़ी खाने के चांस 0% हैं.

19. कुछ चीजें ऐसी हैं जिनका आविष्कार सपने की वजह से हुआ. एलियास होवे ने सिलाई मशीन की खोज सपने में देख कहीं की थी, उन्होंने अपने सपने में खुद को आदिवासियों की कैद में देखा था जो उन्हें जलाने वाले थे. आदिवासी अपने हथियारों को अजीब तरह से सिल रहे थे. इससे एलियास को सिलाई मशीन की तकनीक समझ में आ गई. जैसे:- C6H6 रसायनिक फार्मूला, D.N.A की खोज आदि.

20. सपनों में कुछ भी पढ़ नहीं सकते, यहां तक कि सपने में दिख रही घड़ी में समय देखना भी बेहद मुश्किल होगा.

21. सबसे लंबा सपना सुबह आता है लगभग 35 से 40 मिनट का और हम सोते समय हर डेढ़ घंटे में एक सपना जरुर देखते हैं.

22. एक व्यक्ति अपने जीवन में लगभग 6 साल सपने देखने में बिताता हैं.

23. यदि कोई व्यक्ति लंबे समय से सिगरेट छोड़ने की कोशिश कर रहा है तो उसे गंभीर सपने आने लगते हैं.

24. कई बार क्या होता है कि रात में स्वप्नदोष हो जाता है ऐसा तब होता है जब हम नींद में कोई सेक्सी सपना देखते हैं आपकी जानकारी के लिए बता दे कि स्वप्नदोष होने के बाद ही हमारी आंखें खुलती है जबकि हमें पहले पता होता है कि स्वप्नदोष हो रहा हैं. अगर समय-समय पर हस्तमैथुन कर लिया जाए तो स्वप्नदोष होने के चांस थोड़े कम होते हैं रात में गर्म दूध पीने से इसके होने की संभावना बढ़ जाती हैं.

25. अगर आप किसी सपने से जाग गए हैं, वापस उस सपने को देखना चाहते हैं, तो जल्दी से अपनी आंखें बंद करके सो जाइए बिल्कुल सीधे होकर. बहुत ज्यादा चांस है कि आपका सपना वहीं से शुरु हो जाएगा. यह तरीका हर बार काम नहीं करता.

Related Post:
Loading...


loading...

7 Comments

  1. mohit December 18, 2016
  2. neha kumari December 21, 2016
    • Ankit Banger January 5, 2017
  3. Ritik December 23, 2016
  4. gaurav February 13, 2017
  5. k k Dewang February 13, 2017
  6. sadhana Chakroborti June 1, 2017

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *