फोबिया क्या है, फोबिया के लक्षण, फोबिया के प्रकार, फोबिया A to Z,

Phobia In Hindi
फोबिया के लक्षण

Phobia फोबिया‘फोबिया’ ग्रीक शब्द Phobos से निकला हैं. फोबिया और डर, दोनों में अंतर हैं. डर एक इमोशनल रिस्पॉन्स है, जो किसी से धमकी मिलने या डांट पड़ने के कारण होता हैं. यह काफी कॉमन हैं और कोई बीमारी नहीं हैं. लेकिन फोबिया डर का एक खतरनाक लेवल हैं. फोबिया में डर इतना ज्यादा होता हैं कि इंसान इसे खत्म करने के लिए इंसान अपनी जान से भी खेल सकता हैं।

ये पोस्ट थोड़ी लंबी हैं आप चाहे तो इस पेज को Bookmark कर सकते हैं ताकि दोबारा यहां आकर पढ़ सके।

Phobia A to Z & Facts
फोबिया के प्रकार व रोचक तथ्य

1. मनौविज्ञानिकों द्वारा 400 अलग-अलग तरह के Phobia (डर) बताए गए हैं।

2. किसी संत-साधु या पादरी को देखकर होने वाले डर को “Papaphobia” कहते हैं.

3. Phobia होने के डर को “Phobophobia” कहते हैं।

4. Mobile Phone के बिना रहने से और Signal ना मिलने से होने या लगने वाले डर को “Namophobia” कहते हैं।

5. “Anatidaephobia” एक अजीब तरह का डर होता हैं जिसमे आपको लगता हैं कि कोई Duck (बत्तख) आपको कही से व किसी प्रकार से देख रहा हैं।

6. किसी सुंदर लड़की को देखकर होने वाले डर को “Caligynephobia” कहते हैं।

7. जब आपका बीयर का गिलास खाली हो जाता हैं और उसके बाद आपके अंद जो डर महसूस होता हैं उसे “Cenosillicaphobia” कहते हैं।

8. उसी डर को “Cherophobia” कहते हैं जब आपको लगता हैं कि कही ज्यादा खुश होने से भविष्य में कुछ दुखद न हो जाए।

9. किसी के प्यार मे पड़ने के डर को “Philophobia” कहते हैं।

10. एक रिसर्च से पता चला हैं कि Phobia वह यादें हैं जो DNA मे बदलाव के कारण पीढ़ी-दर-पीढ़ी आगे बढ़ रही रही हैं।

11.Alexander the Great, Nepoleon, Mussolini और Hitler इन सभी को Ailurophobia था। जो एक बिल्ली से लगने वाला डर होता हैं।

12. स्कूल जाने के डर को “Didaskaleinophobia” कहते हैं।

13. भूतकाल में यदि आपके साथ कुछ बुरा हुआ हैं और अब आपका नये लोगो से भरोसा उठ गया हैं तो उसे “Pistanthrophobia” कहते हैं।

14. जब कोई गंदा काम कर देता हैं फिर आंख मिलाने से होने वाले डर को “Ommatophobia” कहते हैं।

15. दांतो के इलाज व देखभाल के डर को “Odontophobia” कहते हैं।

16. लंबे शब्दो को देखकर होने वाले डर को “Hippopotomonstrosesq­uippedalio” कहते हैं। (ये भी तो लंबा ही हैं )

17. Ombrophobia बारिश से सबंधित डर हैं जिसमे लगता हैं कि बारिश की वजह से गंभीर आपदा हो सकती हैं यह ज्यादातर किसानो में होता हैं।

18. शादी होने के डर को व किसी रिश्तेदारी मे बंधने के डर को “Gamophobia” कहते हैं। (शादी का भी डर होता हैं आज पता चला )

19. “Trypophobia” छोटे-छोटे छिद्रो वाली वस्तु को देखकर लगने वाला डर हैं।

20. यदि आप पीला रंग देखकर डर जाते हैं तो आपको “Xanthophobia” हैं।

21. 666 नंबर से सबंधित डर को “Hexakosioihexekontah­exaphobia” कहते हैं।

22. Socialphobia : इस फोबिया से ग्रस्त व्यक्ति किसी भी अंजान व्यक्ति या समूह के सामने आने से, उनसे बात करने से घबराता है। उसके भीतर हमेशा यह डर रहता है कि कहीं वह कुछ गलत न बोल दे। कहीं उसकी इमेज न खराब हो जाए।

23. Agoraphobia : कुछ लोग भीड़-भाड़ भरे स्थानों, बाजारों या बस-ट्रेन में सफर करने से घबराते हैं। इसलिए वह ऐसी जगहों पर जाने से कतराते हैं और अकेले रहना और सफर करना पसंद करते हैं।

24. अंधेरे से डर को “Nyctophobia” कहा जाता हैं। इसमें इंसान किसी अंधेरी जगह पर जाने से डरता हैं। यह डर इस तरह से मन मे बैठ जाता हैं की अगर वो इंसान सो रहा हैं और अचानक अंधेरा हो जाए तो उसकी नींद उसी समय खुल जाती हैं।

25. ऊँचाई से डर को “Acrophobia”(एक्रोफोबिया) कहा जाता हैं। इसमें इंसान को उचाई से बहुत ज्यादा डर लगता हैं। ऊँची जगह पर पहुंचते ही ऐसे इंसान को को panic attack आ जाता हैं। या फिर उसे उल्टियाँ शुरू हो सकती हैं।

26. कुत्तों से डर को “Cyanophobia” कहा जाता हैं। वैसे तो बहुत लोग कुतों से डरते हैं और यह आम बात हैं लेकिन Cyanophobia वाले इंसान घर में बैठ कर भी कुतों के गली मे भौंकने से डर जाते हैं।

27. इंजेक्शन से डर को “Trypanophobia” (ट्राइपानोफोबिया) कहा जाता हैं। इसमे इंसान injection से इतना डरता हैं कि उसके डर से docter के पास तक नही जाता। injection देख कर उसका दिल तेजी से धड़कने लगता हैं।

28. Germs या Dust के डर को इसे “माइसोफोबिया” कहा जाता हैं इसमें इंसान को थोड़ी सी धूल होने पर पर भी घबराहट, सीने में दर्द, सांस लेने में दिक्कत, धड़कन बढ़ना, और कंपकंपी जैसी दिक्कतें हो सकती हैं।

29. अब्लूटोफोबिया यानी कि नहाने से घबराने वाला फोबिया। अक्सर नवजात बच्चों में यह आसानी से पाया जाता है, लेकिन बच्चे ही नहीं बड़े भी इस फोबिया का शिकार हैं। बिना किसी वजह से नहाने से बचना और यदि स्नानघर तक ले भी जाएं, तो बहाना बना कर नहाने से मना करना, यह अब्लूटोफोबिया के लक्षण हो सकते हैं।

30. कार्यस्थल पर किसी से निंदा ना सहनी पड़े और इस चक्कर में कार्य से ही बचने वाले लोग इस अर्गोफोबिया का शिकार होते हैं। यह वे लोग होते हैं जो पहली बार कोई कार्य कर रहे हों। ऐसे लोगों को यह चिंता सताती है कि यदि काम गलत हुआ तो।

31. ठीक इसी तरह से कुछ लोग भी सूरज की धूप से बचने के बहाने बनाते हैं। ऐसे लोग हिलियोफोबिया से पीड़ित होते हैं। ऐसा नहीं है कि धूप से उनका कोई नुकसान होगा, लेकिन वह फिर भी उसका सामना नहीं करना चाहते हैं।

32. क्या किसी दिन आपके साथ ऐसा कभी हुआ है कि आप अपने रसोईघर से कुछ दूरी पर खड़े हैं और रोशनी कम होने के कारण दूर पड़े एक चीज़ को पहचानने की कोशिश कर रहे हैं।

33. यह तब होता है जब दूर रखी चीज़ डरावनी ना होते हुए भी खौफ़नाक रूप ले लेती है। हो सकता है आपने भी अपने ब्रेड टोस्टर को एक खतरनाक जानवर समझ लिया हो। इस प्रकार का डर ओइकोफोबिया कहलाता है

34. कॉलरोफोबिया एक ऐसा फोबिया है जिसमें इंसान को बेवजह सर्कस के जोकर से डर लगता है। ऐसा जोकर जो लोगों को हंसाने के लिए आता है, लोगों का मनोरंजन करता है, हो सकता है आपको उससे डर लगता है।

35. किसी भी प्रकार का फैसला करने से असमर्थ व्यक्ति हो सकता है कि डिसायडोफोबिया से पीड़ित हो। यह एक ऐसा फोबिया है जिसमें पूरी परिस्थिति को समझ लेने के बाद भी व्यक्ति आखिर में फैसला करने से घबरा रहा हो।

36. क्या आपके साथ कभी ऐसा हुआ है कि आप अपने कमरे से निकलकर नीचे वाले माले पर जाने के लिए सीढ़ियों की ओर बड़े थे और पहली सीढ़ी पर पहुंचते ही अचानक रुक गए। क्यों? ऐसा तब होता है जब किसी इंसान को सीढ़ियां उतरने या साथ ही में चढ़ने से भी डर लगता हो। इसे डिसेंडोफोबिया कहा जाता है।

37. अचानक कमरे में अकेले होते हुए भी यह महसूस करना कि आपके आसपास कोई है, कोई ऐसा जरूर है जो खतरनाक है। रात को सोते समय भी डर से नींद खुल जाना और यह आभास होना कि आपके पास से कोई गुज़रा है। यह एक प्रकार का फोबिया है, जिसे पैनफोबिया कहा जाता है।

38. कुछ लोगों को बिजली चमकने से भी डर लगता है। वे सोचते रहते हैं कि कहीं हमारे ऊपर न गिर जाए। इस डर को अंग्रेजी में Astraphobia कहते हैं

39. 17% व्यक्ति अपने डर (Phobia) की वजह से Depression का शिकार हो जाते हैं।

40. एक व्यक्ति अपने डर (Phobia) की वजह से किसी वस्तु से नुकसान पहुँचने से पहले ही बहुत डर जाता हैं। यह उसके दिमाग मे बहुत बड़ी बात होती हैं लेकिन Real Life मे बहुत छोटी।

 

निवेदन: अगर आपके अंदर भी इनमें से को Phobia(फोबिया) हैं तो कमेंट में बताएं।

Translate by Ritesh Kaushik.

Related Post:
Loading...


loading...

34 Comments

  1. dataram baror June 9, 2016
  2. Tanveer June 9, 2016
  3. mahi June 9, 2016
    • Ankit Banger June 10, 2016
  4. Sarandeep Singh June 10, 2016
  5. Sarandeep Singh June 10, 2016
  6. ritesh June 10, 2016
  7. संदीप June 10, 2016
  8. Santosh modi June 12, 2016
    • Rohit saini February 23, 2017
  9. amit badola June 14, 2016
  10. Dilfaraz September 7, 2016
  11. Manhasaikh September 25, 2016
  12. ram kumar yadav September 26, 2016
  13. Shubham September 27, 2016
  14. sudhir dwivedi September 28, 2016
  15. saurabh sharma October 7, 2016
  16. purnima tripathi October 7, 2016
  17. Prince Gupta October 7, 2016
  18. Atul October 10, 2016
  19. Diksha nagpure October 14, 2016
  20. aditya October 18, 2016
  21. amit soni October 22, 2016
  22. Dimple mehta October 23, 2016
  23. pankaj kumar October 23, 2016
  24. Sangeeta October 24, 2016
  25. sanket parkar October 27, 2016
  26. Amit kumar December 5, 2016
  27. aru December 23, 2016
  28. shweta January 26, 2017
    • Ankit Banger February 27, 2017
  29. virendra March 2, 2017
  30. NAEEM KHAN October 28, 2017
  31. rinku behera November 14, 2017

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *