भारतीय किसान: ‘कृषि’ से जुड़े 11 रोचक तथ्य | Indian Farmers In Hindi

Amazing Facts about Indian Farmers in Hindi – भारतीय किसान और कृषि के बारे में रोचक तथ्य

किसानभारत एक कृषि प्रधान देश है‘, हम सभी ने अपने स्कूल के exams में ये लाइन लिखी होगी. एक महाशक्ति बनने की ओर अग्रसर भारत की सबसे बड़ी शक्ति है उसकी कृषि. लेकिन इसे हमारा दुर्भाग्य ही कहा जाएगा कि जिस देश में ‘जय जवान, जय किसान’ के नारे लगे हों, वहां हज़ारों किसान रोज़ अपनी जान दे रहे हैं. हर 30 मिनट में एक भारतीय किसान आत्महत्या कर रहा हैं और जितना अनाज पैदा होता हैं उसका आधा भी मनुष्य के काम नही आता। क्या ये सोचने वाली बात नही ? देश में कृषि के प्रति इस वक़्त जो नज़रिया है, वो कई बार उससे जुड़ी अच्छी बातों को छिपा देता है. चलिए जानते हैं भारतीय कृषि से जुड़ी कुछ रोचक बातें:

1. India की लगभग 60 प्रतिशत आबादी प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रुप से कृषि पर निर्भर है।

2. कृषि मंत्रालय के आँकड़ों के अनुसार भारत में वर्ष 2013 -14 में गेंहू की रिकार्ड 95.9 लाख टन की पैदावार हुई थी।

3. किसान कितनी मेहनत से अनाज उगाता हैं, लेकिन फिर भी हर साल भारत में “2.1 करोड़ टन” गेहूँ खराब हो जाता हैं। आस्ट्रेलिया के कुल अनाज के बराबर।

4. दुनिया में Cotton का प्रोडक्शन करने वाला भारत दूसरा देश है. हमारा ये कॉटन विदेशों में खूब भेजा जाता है. जर्मनी, इटली में भारत से भेजा हुआ Cotton ख़ासा लोकप्रिय है।

5. जितनी विदेशी आय IT क्षेत्र से प्राप्त होती हैं उसके बराबर ही कृषि क्षेत्र से भी प्राप्त होती हैं।

6. मसाला उत्पादन में भारत दुनिया में सबसे आगे है. हर साल यहां विश्व में सबसे ज़्यादा 1.5 मिलियन टन मसालों का उत्पादन होता हैं। अपना “MDH” याद हैं ना..

7. दुनिया भर में भारत से भेजी हुई चाय पी जाती है. भारत की 50 प्रतिशत चाय की खेती असम में होती है।

8. चावल की खेती करने वाले देशों में भारत ऐसा दूसरा देश है, जहां सबसे ज़्यादा चावल का प्रोडक्शन होता है. पहले नंबर पर China हैं।

9. पूरी दुनिया में भारत ऐसा देश है, जहां से केले पूरी दुनिया में भेजे जाते हैं।

10. भारत के राज्य उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक गन्ने की खेती होती है और इसी वजह से गन्ने की पैदावार के मामले में भारत दूसरे स्थान पर हैं।

11. भारत के पास इतना अनाज हैं कि अगर पूरी दुनिया भूखा मर रही हो तो हम 6 महीने तक पूरी दुनिया को खाना खिला सकते हैं।

 

कभी आप खुले आसमान के नीचे अपनी कमाई रख कर देखिये, रात भर नींद नहीं आएगी …..! 
सोचिये उस किसान पर क्या गुज़रती होगी ?

आज भी भारत की आधी से ज़्यादा जनसंख्या खेती पर निर्भर है. शहरों में रहने वाले कई लोग ऐसे हैं, जिनके पिता या दादा किसान रहे होंगे और आज भी उनके लिए अनाज गांव से ही आता होगा. बदलते भारत में जिस तरह से हर चीज़ मॉडर्न होती जा रही है, उसी तरह कृषि और खेती के नियम-तरीकों को भी आधुनिक बनाने की ज़रूरत है. फिर हमें कभी किसी देश से कुछ भी आयात करने की ज़रूरत नहीं होगी. अगर जानकारी अच्छी लगे तो इसे शेयर करे और specially अपने किसान मां-बाप और दादा-दादी  को बताना न भूलें.

Translator Anshu Raj.

Related Post:
Loading...


loading...

9 Comments

  1. Vinod Tyagi May 7, 2016
  2. sandeep May 7, 2016
    • Ankit Banger May 8, 2016
  3. sanjeev katiyar, FCI May 8, 2016
  4. Jaga May 30, 2016
  5. bikash June 1, 2016
  6. [email protected] October 29, 2016
  7. monu October 31, 2016
  8. PRABH SIDHU February 13, 2017

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *