मनोवैज्ञानिक तथ्य | Psychology in Hindi -1

Amazing Facts bout Psychological in Hindi
मनोवैज्ञानिक तथ्य -1

मनोवैज्ञानिक तथ्य psychological facts in hindi मानव शरीर से जुड़े कई ऐसे तथ्य हैं जो हम सब जानते है, लेकिन अभी भी उन सभी तथ्यों में से कई ऐसे हैं, जिंनके बारे में हमें नहीं पता। जिस तरह से हर व्यक्ति का अपना अलग स्वभाव होता है, उसी तरह से अपने आस-पास की चीज़ों को लेकर भी हर व्यक्ति की अपनी मानसिकता होती है। हर व्यक्ति अपने मनोविज्ञान के अनुसार व्यवहार करता है। आज हम जिन “मनोवैज्ञानिक तथ्य” का ज़िक्र कर रहे हैं, उन्हें पढ़ने के बाद आप खुद को और अपने परिजनों को और अच्छे से जानने लगेंगे।

1. जो लोग ताना समझने में बढ़िया होते हैं वो अक्सर दिमाग पढ़ने में अच्छे होते हैं. (Like Me).

2. आप जो कपड़े पहनते हैं उनका सीधा असर आपके मूड पर होता हैं इसलिए अच्छे कपड़े पहनो और ज्यादा खुश रहो.

3. जो लोग बहुत अधिक कसम खातें हैं, उनकी दोस्ती सच्ची और ईमानदार होती हैं.

4. Chocolate खाने और Online shopping करने की लत किसी नशे से भी ज्यादा होती हैं.

5. आप जिस व्यक्ति से जितनी अधिक बात करते हैं उसके साथ प्यार में पड़ने की संभावना उतनी ही ज्यादा हो जाती हैं.

6. ऑनलाइन डेटिंग और ऑनलाइन खरीदारी के मनोवैज्ञानिक सिद्धांत एक सामान हैं.

7. जो आदमी Serial killers को खूब पसंद करते हैं वो अधिक बातूनी होते हैं.

8. अगर आप किसी को बात बता रहे हों और वो चुप हैं, तो इसका मतलब हैं वो आपकी बात सुनना नही चाहता.

9. जिन महिलाओं के दोस्त आसानी से नही बनते, उनका “IQs Level” High होता हैं.

10. जो लोग अच्छी धूप लेते हैं वो दूसरों के मुकाबले ज्यादा खुश रहते हैं.

11. अगर आप किसी चीज को उसके मालिक के रूप में देखते हैं तो उस चीज को खरीदने की संभावना बढ़ जाती हैं.

12. जो लोग परवाह नहीं करने का नाटक करते हैं, वो सबसे अधिक परवाह करते हैं.

13. जो लोग दूसरो की अधिक बुराई करते हैं उनके अंदर confidence की जबरदस्त कमी होती हैं.

14. जो व्यक्ति सभी को खुश रखने की कोशिश करता हैं अंत मे वह सबसे अधिक दुखी होता हैं.

15. नास्तिक लोग अधिक सेक्स करते हैं. जूनून के लिए नही, बल्कि अपना अधिकार दिखाने के लिए.

16. जब एक व्यक्ति मर जाता है तो उसका दिमाग 7 मिनट तक जिंदा रहता हैं जिसमे वो अपने जीवन कि सभी यादें एक सपने की तरह देखता हैं.

17. यदि आपका अधिकतर समय Negative thoughts में गुज़र जाता हैं तो इसका कारण आपके अंदर का एक जीन हैं.

18. 80% लोग Music सिर्फ नकरात्मक विचारों से छुटकारा पाने के लिए सुनते हैं.

19. आपकी जीभ की लंबाई का संबंध आपकी सेक्स करने की इच्छा से होता हैं और जो लोग अपनी कोहनी चाट सकते हैं वो नई चीजें करने के इच्छुक ज्यादा होते हैं.

20. यदि आप किसी से सेक्स करना चाहते हैं तो आपके दिमाग के लिए उसे झूठ बोलना असंभव-सा लगता हैं.

21. कुछ चीज भूल जाने पर आंखे बंद करके उसे याद करने से, वो चीज जल्दी याद आती हैं.

22. अधिक सोने वाले लोग ओर अधिक नींद की लालसा करते हैं.

23. जैसा आपका दिमाग सोचता हैं वैसा ही आपकी cell react करती हैं. इसलिए अधिक Negative सोचने पर आपको बीमार जैसा महसूस होने लगता हैं.

24. अगर कोई छोटी-छोटी बात पर गुस्सा हो जाता हैं, इसका मतलब उसे आपके साथ और प्यार की जरूरत हैं।

25. एक मूर्खतापूर्ण सवाल का जवाब तुरंत ताने के साथ देने वाले का मस्तिष्क स्वस्थ होता हैं. (Like me).

 

ये 25 मनोवैज्ञानिक तथ्य पढ़कर आपको ऐसा लग सकता हैं जैसे मैनें आपका दिमाग पढ़ रखा हों. लेकिन चिंता न करे ऐसा होना स्वाभाविक हैं. इनमें से कोई ऐसी बात जो आपके अंदर भी हैं तो कमेंट में प्वाॅइंट के साथ “Like me” लिखे.

अभी बहुत कुछ वेबसाइट पर डालने वाला हूँ. आप बस थोड़ा Wait करें. 

Related Post:
loading...
दोस्तो हमने एक Youtube चैनल शुरू किया है आप लोगो के लिए. इसमें हम आपको विडियों के माध्यम से दुनिया की नई अनोखी जानकारियाँ बताएंगे। लेकिन इसके लिए पहले आपको हमारा चैनल सबस्क्राइब करना होगा। Niche click करके आप हमारी विडियो भी देख सकते है और चैनल भी Subscribe कर सकते है आपको इसका फायदा जरूर होगा ये मेरा वादा है. लेकिन Subscribe करके एक मौका तो दिजिए...

नई पोस्ट ईमेल में प्राप्त करने के लिए Subscribe करें.

सब्क्रिप्सन फ्री है

loading...

20 Comments

  1. raship May 13, 2016
  2. Abhishek May 13, 2016
  3. Ravi kant May 13, 2016
  4. craf May 13, 2016
  5. Nitish Kumar May 14, 2016
  6. Balkar Singh May 14, 2016
  7. Raj Chauhan May 14, 2016
  8. kshitij singh May 14, 2016
  9. malik May 16, 2016
  10. mahesh Kumar May 16, 2016
  11. Suraj May 22, 2016
  12. Vishal photon May 23, 2016
  13. Vikash Kumar June 7, 2016
  14. Coy Meno June 18, 2016
  15. Naveen September 17, 2016
  16. s.k. choudhary November 8, 2016
  17. प्रवीण सिंह November 14, 2016
  18. arvind MEENA November 18, 2016
  19. MADHUKAR CHAUHAN December 7, 2016
  20. malhar January 1, 2017

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *